पत्थर खदान में हाइवा गिरने से ड्राइवर की मौत, सुरक्षा नियमों की अनदेखी से हुआ हादसा

कोडरमा : नवलशाही थाना क्षेत्र के चमारो मंडी स्थित जमडीहा मौजा में संचालित पत्थर खदान में एक हाइवा के अनियंत्रित होकर गिर जाने से हाइवा चालक की मौत घटनास्थल पर ही हो गई. मृतक की पहचान थाना क्षेत्र के कुंडीधनवार निवासी ओम कुमार यादव (26 वर्ष) पिता राजेंद्र यादव के रूप में हुई है.

बोल्डर लोडकर खदान से निकल रहा था बाहर, हुआ हादसा

जानकारी के अनुसार, युवक उक्त खदान से हाइवा में बोल्डर लोड कर खदान से बाहर निकल रहा था. वह कुछ दूर ही निकला था कि हाइवा अनियंत्रित होकर गहरे खदान में जा गिरा, जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई. घटना की जानकारी मिलने पर ग्रामीणों की काफी भीड़ इकट्ठा हो गई. वहीं, घटना की सूचना पर इंस्पेक्टर श्रीराम पासवान, थाना प्रभारी पंचम तिग्गा, एसआई रंजीत कुमार, एएसआई कृष्णा राम पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे तथा पूरे घटनाक्रम की जानकारी लेते हुए ग्रामीणों के सहयोग से शव को खदान से बाहर निकलवाया. पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए कोडरमा सदर अस्पताल भेज दिया है. जिस खदान में हादसा हुआ है वह नवलशाही निवासी पत्थर व्यवसायी भीम साव का बताया जा रहा है, जबकि हाइवा भिमेडीह निवासी मुकेश कुमार ठाकुर का है. खदान की लीज अवधि इसी वर्ष दिसंबर में खत्म होने वाली है.

सुरक्षा नियमों की अनदेखी से हो रहे हादसे

जिले के पत्थर खदान में हादसे के बाद मौत होने का एक और मामला सामने आया है. इन हादसों के बाद सुरक्षा नियमों की अनदेखी का सवाल हर बार उठता है, पर इसके अनुपालन को लेकर विभागीय सख्ती पूरी तरह नहीं दिखती. यही कारण है कि कुछ माह के अंतराल में इस तरह की घटनाएं होती रहती है. नवलशाही थाना क्षेत्र के चमारो मंडी स्थित जमडीहा मौजा में संचालित जिस पत्थर खदान में रविवार को हादसा हुआ. उसकी लीज अवधि दिसंबर 2022 में ही खत्म होने वाली है. ऐसे में यहां जोर शोर से खनन का कार्य चल रहा था. इस कार्य में नियमों का कितना अनुपालन किया जा रहा था यह विभागीय जांच का विषय है, पर घटनास्थल की तस्वीरें काफी कुछ बयां कर रही थीं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*