जामताड़ा : तत्कालीन अंचलाधिकारी हेमा प्रसाद समेत अन्य के खिलाफ होगी ACB जांच, CM हेमंत सोरेन ने दी स्वीकृति

जामताड़ा : तत्कालीन अंचलाधिकारी हेमा प्रसाद समेत अन्य के खिलाफ अब एसीबी (भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो) जांच करेगी. झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने इससे जुड़े प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. ये मामला जामताड़ा जिले के मिहिजाम थाना अन्तर्गत बुटकेरिया मौजा में अवैध रूप से जमीन की खरीद बिक्री किये जाने से संबंधित है.

जमीन की अवैध खरीद बिक्री मामले की एसीबी करेगी जांचमुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने तत्कालीन अंचलाधिकारी हेमा प्रसाद एवं अन्य के खिलाफ जामताड़ा जिले के मिहिजाम थाना अन्तर्गत बुटकेरिया मौजा में अवैध रूप से जमीन की खरीद बिक्री किये जाने से संबंधित मिहिजाम थाना कांड संख्या (47/ 2016) को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को हस्तांतरित करने के प्रस्ताव पर अनुमोदन दिया है.

पीई दर्ज करने की अनुमति देने का अनुरोध

इस मामले में जामताड़ा की तत्कालीन अंचलाधिकारी हेमा प्रसाद, तत्कालीन अंचल निरीक्षक इस्माइल टुडू तथा अन्य के खिलाफ पीई दर्ज करने की अनुमति प्रदान करने का अनुरोध किया गया है. प्रतिवेदन के अनुसार इस संबंध में जामताड़ा थाना में आईपीसी की धारा 420/406/409/468/471 एवं 120- बी के तहत काण्ड संख्या- 47/16 दर्ज की गयी है.

फरार रहने की स्थिति में कुर्की जब्ती का निर्देश

प्रतिवेदन से यह स्पष्ट होता है कि इस कांड में सभी नौ प्राथमिक अभियुक्तों के विरुद्ध मामला सत्य पाते हुए अविलंब गिरफ्तार करने तथा फरार रहने की स्थिति में कुर्की जब्ती की कार्रवाई करने एवं उचित माध्यम से अभियोजन स्वीकृति प्राप्त करने के लिए प्रतिवेदन समर्पित करने तथा पर्यवेक्षण में लंबित अन्य निर्देशों का अनुपालन करने का निर्देश दिया गया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*