सोमालिया: राजधानी मोगादिशु में कार बम विस्फोट, बच्चों सहित 100 से अधिक लोगों की मौत

सोमालिया की राजधानी मोगादिशु में प्रमुख सरकारी कार्यालयों के पास एक व्यस्त जंक्शन पर दो कार बम विस्फोट हुए, जिसमें बच्चों सहित 100 से अधिक लोगों की मौत हो गयी है. खबर है कि मरने वालों की संख्या और भी बढ़ सकती है. सोमालिया के राष्ट्रपति ने कहा कि शनिवार को राजधानी में हुए कार बम धमाकों में कम से कम 100 लोगों की मौत हो गई है और मृतकों की संख्या और बढ़ने की आशंका.

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और अन्य वरिष्ठ अधिकारी कर रहे थे उग्रवाद से निपटने की तैयारी

मोगादिशू में यह हमला उस दिन हुआ जब राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और अन्य वरिष्ठ अधिकारी हिंसक उग्रवाद खासकर अल-कायदा से जुड़े अल-शबाब समूह से निपटने के मकसद से विस्तारित प्रयासों पर चर्चा करने के लिए बैठक कर रहे थे.

पांच साल पहले भी इसी जगह पर हुआ था विस्फोट

इस स्थान पर पांच वर्ष पूर्व भी भीषण विस्फोट हुआ था, जिसमें 500 से अधिक लोग मारे गए थे. बहरहाल, शनिवार को हुए हमले की जिम्मेदारी किसी ने नहीं ली है.

राष्ट्रपति ने हमले को क्रूर और कायरतापूर्ण बताया

राष्ट्रपति हसन शेख महमूद ने हमले को क्रूर और कायरतापूर्ण बताते हुए इसके लिए अल-शबाब को दोषी ठहराया है. एम्बुलेंस सेवा के निदेशक अब्दुलकादिर अदन ने एक ट्वीट में कहा, पहले हमले में घायल लोगों की मदद करने वाली एक एम्बुलेंस दूसरे विस्फोट से नष्ट हो गई. एक प्रत्यक्षदर्शी अब्दिरजाक हसन ने कहा, जब दूसरा धमाका हुआ तब मैं 100 मीटर दूर था. मैं जमीन पर पड़े शवों की गिनती नहीं कर सका. उसने कहा कि पहला धमाका शिक्षा मंत्रालय की चारदीवारी के बाहर हुआ, जहां फेरीवाले और मुद्रा परिवर्तित करने वाले मौजूद थे.

घटनास्थल पर मौजूद एसोसिएटेड प्रेस (एपी) के एक पत्रकार ने कहा कि दूसरा विस्फोट एक व्यस्त रेस्तरां के सामने दोपहर में हुआ. पत्रकार ने कहा कि बड़ी संख्या में शव सड़कों पर थे, वे सार्वजनिक परिवहन में यात्रा करने वाले आम लोग प्रतीत होते हैं. सोमालिया जर्नलिस्ट्स सिंडिकेट ने अपने सहयोगियों और पुलिस का हवाला देते हुए बताया कि दूसरे विस्फोट में एक पत्रकार की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*