मुख्यमंत्री रघुवर दास ने किया टेक्सटाइल समेत तीन प्लांटों का शिलान्यास, कहा- 20 हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार

JoharLive Team

रांची । मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि सरकार की नीति एवं नीयत दोनों अच्छी हैं। यहां कुशल मानव संसाधन है। इसकी बदौलत झारखंड में निवेश आ रहे हैं। वर्तमान सरकार यहां के युवाओं को बढ़ते क्रम में रोजगार उपलब्ध कराने में सक्षम हो रही है। झारखंड में गुणवत्ता युक्त वस्तुओं का निर्माण कर उसे निर्यात करना है, क्योंकि किसी भी राज्य व देश की अर्थव्यवस्था को यह काफी हद तक निर्धारित करता है।
मुख्यमंत्री दास गुरुवार को रांची के बुढ़मू स्थित चकमें में लगुना टेक्सटाइल प्लांट के शिलान्यास समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर रांची सांसद संजय सेठ, कांके विधायक डॉ. जीतू चरण राम, उद्योग सचिव के रवि कुमार, लगुना के प्रबंधक सर्वजीत घोष सहित अन्य लोग उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि 2014 के बाद राज्य की आर्थिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने का प्रयास सरकार ने किया। यहां के युवाओं को हुनरमंद बनाकर रोजगार दिलाने के अथक प्रयास हुए। इस प्रयास को अमलीजामा पहनाने के लिए 2015 में उद्योग स्थापना के लिए कई नीतियां बनाई गईं। आज बुढ़मू में तीन उद्योग इकाइयों का शिलान्यास हो रहा है। इससे क्षेत्र के 20 हजार हुनरमंद युवाओं को उनके गांव में ही रोजगार मिलेगा। यही नहीं आने वाले दिनों में इस क्षेत्र में अन्य यूनिट को प्रारंभ किया जाएगा, जिससे करीब 40 हजार लोगों को स्थानीय स्तर पर ही रोजगार मिल सकेगा। हमें टेक्सटाइल और फुटवियर के क्षेत्र में झारखंड को हब बनाना है। वस्त्र निर्माण के क्षेत्र में आगे चल रहे बंगलादेश से आगे एक लंबी लकीर खींचनी है। यह सब सरकार यहां की जनता के सहयोग से जरूर पूरा करेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड में लगातार वस्त्र उद्योग की इकाइयों की स्थापना हो रही है, जिसमें सरकार का ध्यान नारी सशक्तिकरण पर है। यही वजह है कि युवतियों को हुनरमंद बनाकर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। वस्त्र उद्योग में 80 प्रतिशत नौकरी झारखंड की युवतियों और 20 प्रतिशत नौकरी युवाओं को मिलेगी। बुढ़मू में प्रारंभ हो रहे वस्त्र उद्योग के लिए प्रशिक्षण प्राप्त 600 बच्चियों को उद्योग भवन निर्माण नहीं होने तक कंपनी द्वारा रोजगार प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा किशोर एक्सपोर्ट और यूरो सेफ्टी यूनिट की आधारशिला रखी जा चुकी है। क्षेत्र के 50 एकड़ भूमि पर इन तीन प्लांट के अतरिक्त करीब 10 यूनिट प्रारंभ करने की योजना पर कार्य हो रहा है, जिससे बेहतर रोजगार के साधन उपलब्ध होंगे। आप सभी यूं ही सरकार को सहयोग करते रहें। हम आपकी समृद्धि के वाहक बनेंगे। हर गरीब परिवार को रोजगार व स्वरोजगार देना वर्तमान सरकार का लक्ष्य है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां के हुनरमंद और ईमानदार मानव संसाधन की वजह से ही लगातार निवेशक निवेश कर रहे हैं। वस्त्र उद्योग में बने कपड़े यूरोप, अमेरिका, इंग्लैंड समेत अन्य देशों में निर्यात किए जाएंगे। आप सभी प्रशिक्षण प्राप्त युवा पूरी ईमानदारी और लगन से काम करें। ताकि यहां के बने कपड़े और हुनरमंद युवाओं की कला राज्य का मान दुनिया में बढ़ा सके।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*