झारखंड प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को IAS में प्रोन्नति की तैयारी, प्रस्ताव पर सहमति मिलने की प्रतीक्षा

रांचीः झारखंड प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को भारतीय प्रशासनिक सेवा में प्रोन्नति मिलने की संभावना है. इस लिस्ट तीन दर्जन से अधिक अधिकारी हैं. सरकार ने इसकी सूची को अंतिम रुप देते हुए केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय को अनुमोदन के लिए भेज दिया है. जानकारी के मुताबिक वर्ष 2019 की रिक्तियों के विरुद्ध 17 और वर्ष 2020 के विरुद्ध 15 अफसरों को आइएएस में प्रोन्नति दी जानी है.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के द्वारा इस संबंध में तैयार प्रस्ताव पर सहमति मिलने के बाद प्रमोशन की प्रतीक्षा कर रहे राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों का भारतीय प्रशासनिक सेवा में प्रोन्नति का रास्ता साफ हो गया है. मई 2021 में राज्य सरकार के अनुमोदन पर झारखंड प्रशासनिक सेवा के 10 अधिकारियों को आईएस में प्रोन्नति दी गई थी. इस बार भी झारखंड प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के प्रमोशन होने के आसार नजर आ रहे हैं.

सूची में ये शामिल अधिकारी

राज्य सरकार द्वारा तैयार सूची में इन अधिकारियों को प्रोन्नति मिल सकती है. संजय सिन्हा, मनोज जयसवाल,नागेंद्र कुमार सिन्हा ,अनिल कुमार सिंह, हरि कुमार केसरी, जगबंधु महथा, बिंदेश्वरी ततमा, इंदु रानी, अरुण वाल्टर सांगा, दशरथ चंद्र दास, सुमन कैथरिन किस्पोट्टा, बाल किशुन मुंडा, लाल चंद्र डाडेल, नेल्सन एयान बागे, शशि प्रकाश झा, अंजनी कुमार मिश्रा, संजय बिहारी अंबष्ट, अंजनी कुमार दुबे, अमित प्रकाश, गोपालजी तिवारी, शेखर जमुआर, संजय कुमार, अरविंद कुमार, राजू रंजन राय, पवन कुमार, अनिल कुमार, कुमुद सहाय, शशि भूषण मेहरा, प्रदीप तिग्गा, पूनम प्रभा तिर्की, मनोहर मरांडी, एके सत्यजीत, नागेंद्र कुमार, अजय सिंह, अभय नंदन अंबष्ट, राम नारायण राम, निसार अहमद, रवि रंजन मिश्रा, आलोक त्रिवेदी के नाम शामिल हैं. राज्य द्वारा केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय को अनुमोदन भेजने के बाद अब गेंद केंद्र के पाले में है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*