राजंगज: जूस कारोबारी ज्‍योति रंजन की हत्‍या मामले की गुत्‍थी सुलझी, सगे बड़े भाई ने अपने दोस्‍त के साथ मिलकर की थी हत्‍या 

राजगंज : खरनी मोड़ के समीप सनशाइन कंट्री कॉलोनी में रहने वाले जूस कारोबारी ज्‍योति रंजन की हत्‍या मामले की गुत्‍थी पुलिस ने सुलझा ली है। शुक्रवार को ही पुलिस ने हत्याकांड के मामले में ज्‍योति रंजन के बड़े भाई सौरभ शर्मा समेत एक अन्‍य आरोपित को गिरफ्तार किया है। सगे बड़े भाई ने ही अपने दोस्‍त के साथ मिलकर ज्‍योति रंजन की हत्‍या की.

ज्योति रंजन के काॅल डिटेल के आधार पर हत्याकांड का खुलासा हुआ। पूलिस ने हत्याकांड के आरोपित मृतक के भाई को अंतिम संस्कार के दौरान श्मशान घाट से गिरफ्तार किया। पुलिस की पुछताछ में आरोपित ने स्‍वीकार किया कि उसने भाई की फैक्ट्री हड़पने के लिए हत्या की साजिश रची। मामले में शक्ति चौक निवासी एक युवक को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है। शुक्रवार को जूस कारोबारी ज्योति रंजन का अंतिम संस्कार लिलोरी मंदिर में किया गया। इस दौरान पुलिस ने दोनों आरोपितों को हिरासत में ले लिया।

जानकारी के अनुसार, पुलिस को हत्‍या के बाद से ही इन दोनों पर शक था। शुक्रवार को शक्ति चौक निवासी उक्त युवक ज्योति रंजन का शव पहुंचने के पर्व उसके घर पहुंचा था। इस दौरान एसएसपी, ग्रामीण एसपी, डीएसपी एवं पुलिस की गतिविधि पर वह नजर रख रहा था। इधर, एसएसपी एवं ग्रामीण एसपी के जाने के बाद बाघमारा डीएसपी ने उक्त युवक को टारगेट में लिया। पुलिस को जांच के दौरान कई सुराग हाथ लगे थे।

मालूम हो कि गुरुवार की शाम करीब साढ़े सात बजे अपराधियों ने गोली मारकर कार सवार ज्‍योति रंजन की गोली मारकर हत्‍या कर दी थी। घटना के वक्‍त ज्‍योति रंजन का पांच साल का बेटा भी कार में ही था। ज्‍योति रंजन को गोली मारने के बाद अपराधियों ने उसे हिलाकर भी देखा था। इस दौरान मृतक की पत्‍नी दीपा से अपराधियों का आमना-सामना भी हुआ था।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*