अग्निपथ योजना के खिलाफ आज बिहार बंद, पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड पर

पटना: सेना में कॉन्ट्रेक्ट बेसिस पर बहाली लाने वाली अग्निपथ स्कीम को अविलंब वापस लेने की मांग पर अड़े अग्निवीरों का आज बिहार बंद  है. इस बंद का आह्वान बिहार के छात्र-युवा संगठन आइसा-इनौस, रोजगार संघर्ष संयुक्त मोर्चा और सेना भर्ती जवान मोर्चा ने किया है.

केंद्र सरकार को योजना वापस लेने के लिए 72 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया है. इस बंद को राजद व महागठबंध के साथ ही वीआईपी ने भी अपना समर्थन दिया है.

इन संगठनों ने कहा कि सरकार इस योजना को वापस करने में जितनी देर करेगी, आंदोलन उतना ही विस्फोटक होता जाएगा और तब इसके लिए केवल और केवल सरकार ही जिम्मेदारी होगी.

संगठन के नेताओं ने कहा कि मोदी सरकार को 72 घण्टे का अल्टीमेटम देते हुए कहा है कि यदि सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ और युवाओं का मजाक उड़ाने वाली इस योजना को वापस नहीं लेती, तो 18 को बिहार बन्द और फिर भारत बंद की ओर बढ़ेंगे.

शुक्रवार को उग्र छात्रों ने प्रदर्शन के दौरान पूरे बिहार में कहर बरपाया था. पटना के दानापुर स्टेशन पर ट्रेनों में तोड़फोड़ की गयी. दानापुर स्टेशन पर खड़ी ट्रेन को फूंका गया. वहीं लखीसराय में विक्रमशिला एक्सप्रेस और जनसेवा एक्सप्रेस में उपद्रवियों ने आग लगा दी थी.

इस दौरान लूटपाट भी की गई और यात्रियों को पीटा भी गया. वहीं गया-कियूल-बख्तियारपुर ट्रेन की बोगियों को फूंक डाला गया था. बोगियों में आग लगाने के बाद काफी देर तक उपद्रवियों ने बवाल काटा और फिर कियूल गया पैसेंजर में ही बैठ कर भाग निकले.

इधर समस्तीपुर में मोहद्दीनगर स्टेशन पर जम्मूतवी-गुहाटी एक्सप्रेस की कई बोगियों में आग लगा दी थी. ट्रेनों के साथ-साथ सड़कों पर भी सैंकड़ों की संख्या में प्रदर्शकारियों ने तोड़फोड़ की गयी थी. कई सरकारी भवनों को इस दौरान निशाना बनाया गया.

बिहार बंद के मद्देनजर पुलिस मुख्यालय ने सभी एसडीओ और एसडीपीओ को को अलर्ट रहने को कहा है क्योंकि तीन दिनों में पूरे प्रदेश में जमकर उत्पात मचाया गया था. ऐसे में आज के बंद के दौरान लॉ एंड आर्डर न बिगड़े इसके लिए ठोस कदम उठाए जा रहे हैं.

राजधानी पटना सहित पूरे बिहार के सभी थानाध्यक्षों को अपने-अपने इलाकों में सतर्क रहने को कहा किया गया है. बिहार पुलिस मुख्यालय के द्वारा राजधानी पटना सहित बिहार के कुछ संभावित जिले जहां पर उपद्रव हो सकता है वहां पर अतिरिक्त पुलिस बल के साथ साथ बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस बल के जवानों को भी तैनाती की गई है ताकि विधि व्यवस्था बनी रहे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*