नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के सक्रिय सदस्य निर्मल उरांव गिरफ्तार, दो हथियार और पांच जिंदा गोली बरामद

लातेहारः गारू थाना क्षेत्र के डबरी गांव से नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के सक्रिय सदस्य निर्मल उरांव को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उसके पास से दो हथियार और पांच जिंदा गोली भी बरामद किए हैं. गिरफ्तार उग्रवादी गारू थाना क्षेत्र अंतर्गत डबरी गांव का रहने वाला है. गिरफ्तार नक्सली से पुलिस को पूछताछ के दौरान कई महत्वपूर्ण सूचनाएं प्राप्त हुई हैं. जिसके आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है.

निर्मल उरांव वर्ष 2002 से ही भाकपा माओवादी का सदस्य रहा है. वह मुख्य रूप से गुमला जिला के डुमरी क्षेत्र के इलाके में सक्रिय रहता था. इन दिनों वह एक अपना गिरोह बनाकर विभिन्न अपराधिक घटनाओं को अंजाम भी दे रहा था. पुलिस की लगातार बढ़ रही दबिश के कारण निर्मल उराव अपने पैतृक घर डबरी आकर छिप गया. इसी बीच लातेहार एसपी अंजनी अंजन को गुप्त सूचना मिली कि भाकपा माओवादी का उग्रवादी गांव में छुपा हुआ है. इस सूचना पर गारू थाना प्रभारी रंजीत कुमार यादव के नेतृत्व में एक टीम गठित कर छापामारी की गयी. पुलिस की टीम ने निर्मल उरांव को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया. छानबीन के बाद पुलिस ने उसके पास से दो राइफल और 5 गोलियां बरामद की.

डीएसपी राजेश कुजूर ने बताया कि निर्मल उरांव वर्ष 2002 में अपने गांव में ही एक व्यक्ति की हत्या कर दिया था. उसके बाद वह पुलिस से बचने के लिए भागकर माओवादियों में शामिल हो गया था. इसी बीच वर्ष 2006 में वह पुलिस की गिरफ्त में भी आ गया और जेल भी गया. लेकिन जमानत पर छूटने के बाद वह फिर से नक्सलियों के साथ आपराधिक घटनाओं में शामिल हो गया था. लातेहार में नक्सली की गिरफ्तारी के खिलाफ बनाए गए छापामारी दल में गारू थाना प्रभारी रंजीत कुमार यादव पुलिस अधिकारी शाहिद अंसारी तारापद महतो, सोना पासवान के अलावे पुलिस के जवान अंकित कुमार, लव कुमार दुबे और सत्येंद्र सिंह शामिल रहे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*