पेट्रोल पर 25 रुपए की राहत देने को लेकर हेमंत सरकार गंभीर, बैठक कर योजना को समय पर लागू करने का दिया निर्देश

रांची । झारखंड में गरीबों को पेट्रोल पर 25 रुपए की राहत देने को लेकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शुक्रवार को अधिकारियों के साथ बैठक की. अपने सरकार के 2 वर्ष पूरे होने के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इसकी घोषणा की थी. घोषणा के तहत राज्य सरकार द्वारा 26 जनवरी 2022 से राज्य में राशन कार्डधारी परिवार जिनके पास बाइक, स्कूटी अथवा अन्य दो पहिया वाहन है, लेकिन पेट्रोल महंगा होने के कारण नहीं भरा पा रहे हैं उन्हें पेट्रोल की खरीद पर प्रति लीटर 25 रुपए छूट देने की बात कही थी.

मुख्यमंत्री ने समीक्षा के दौरान पदाधिकारियों से कहा कि पेट्रोल के दाम बढ़ने के कारण सबसे अधिक असर गरीब, मजदूर, किसान और मध्यम वर्ग के परिवारों को हुआ है. राज्य सरकार का प्रयास है कि झारखंड में गरीब, मजदूर, किसान और मध्यम वर्ग के लोगों को पेट्रोल की बढ़ती कीमत से राहत दी जाए.

मुख्यमंत्री ने पदाधिकारियों को निर्देशित किया कि संबंधित सभी विभाग बेहतर समन्वय बनाकर जल्द एक तंत्र विकसित करें, जिससे हम आगामी 26 जनवरी से गरीब लोगों को पेट्रोल की खरीद पर छूट दे सकें. बैठक में राज्य के मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, खाद्य आपूर्ति व सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामले विभाग की सचिव हिमानी पांडे, परिवहन सचिव केके सोन सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे.

एप के जरिए लाभ देने की तैयारी

इस योजना का लाभ लोगों को एप के जरिए मिलेगा. इसके लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने समीक्षा बैठक में उपस्थित सभी पदाधिकारियों को निर्देशित किया है. उन्होंने खाद्य आपूर्ति विभाग, परिवहन विभाग और एनआईसी जल्द एक एप बनाएं जिससे लोगों को पेट्रोल की खरीद पर प्रति लीटर 25 रुपए की राशि उनके बैंक खाते में सब्सिडी के रूप में जमा हो सके. मुख्यमंत्री ने कहा कि एक गरीब परिवार को हर महीने अधिकतम 10 लीटर तक की पेट्रोल की खरीद पर प्रति लीटर 25 रुपए, अधिकतम 250 रुपए सब्सिडी दी जाए. मुख्यमंत्री ने इस योजना के सफल संचालन के लिए बेहतर कार्य योजना बनाते हुए ससमय इसे लागू करने का निर्देश पदाधिकारियों को दिया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*