एशियन चैंपियंस ट्रॉफी हॉकी में भारत ने पाकिस्तान को 3-1 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई

हैदराबाद: बांग्लादेश की राजधानी ढाका में खेले जा रहे मेन्स हॉकी चैंपियंस ट्रॉफी 2021 में भारत ने अपने तीसरे मैच में चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 3-1 से हरा दिया. हरमनप्रीत सिंह भारत की जीत के हीरो रहे, जिन्होंने पेनल्टी कॉर्नर के जरिए दो गोल दागे.

वहीं, एक गोल आकाशदीप सिंह की स्टिक से आया. इस पूरे मैच में भारत ने शुरु से ही अपना दबदबा कायम रखा, लेकिन कुछ मौकों पर पाकिस्तान भारत के डिफेंस को भेदने में कामयाब रहा. हालांकि, पाकिस्तान की ओर से सिर्फ एक गोल ही आ सका.

भारत ने इस टूर्नामेंट में कोरिया के खिलाफ 2-2 के ड्रॉ से आगाज किया था. जबकि दूसरे मैच में बांग्लादेश को 9-0 से करारी पटखनी दी थी. मस्कट में एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी 2018 में फाइनल बारिश की भेंट चढ़ जाने के कारण भारत और पाकिस्तान को संयुक्त विजेता घोषित किया गया था.

बुधवार को बांग्लादेश को 9-0 से हराने के बाद भारत बढ़े हुए हौसले के साथ उतरा था. उसने पाकिस्तान के खिलाफ जबरदस्त शुरुआत की. उसके लिए पहला गोल मनप्रीत सिंह ने दागा. उन्होंने यह गोल पेनाल्टी कॉर्नर पर लगाया. भारत को इस बीच हालांकि कई मौके मिले, लेकिन वह उन्हें गोल में नहीं बदल पाया. पहला क्वॉर्टर इसी स्कोर पर खत्म हुआ. पहले गोल के बाद टीम इंडिया का जश्न देखने लायक था.

हाफ टाइम तक भारत 1-0 से आगे

पाकिस्तान ने इस बीच गोल करने के कई प्रयास किए. लेकिन भारत ने मैच पर अपनी पकड़ ढीली नहीं होने दी. भारत ने गेंद को अपने कब्जे में रखा और पाकिस्तान पर दबाव बनाए रखा. पाकिस्तान की ओर से अफराज ने कोशिश की, लेकिन भारतीय रक्षापंक्ति की सतर्कता ने इस युवा खिलाड़ी को गोल नहीं करने दिया. हाफ टाइम तक स्कोर 1-0 ही रहा.

तीसरे क्वॉर्टर में भारत

तीसरे क्वॉर्टर में भारत के लिए दूसरा गोल आकाशदीप सिंह ने लगाया. उन्होंने 42वें मिनट में गेंद जाल में उलझाते हुए भारत की बढ़त दोगुनी कर दी. हालांकि, जूनैद मंजूर ने कुछ ही देर में जवाबी हमला करते हुए टीम के लिए पहला गोल दागा. इस तरह तीसरे क्वॉर्टर के खत्म होने तक स्कोर 2-1 हो गया.

54वें मिनट में भारत को एक और पेनाल्टी कॉर्नर मिला और हरमनप्रीत सिंह ने इसका पूरा फायदा उठाया. उन्होंने जबरदस्त हिट लगाते हुए गेंद को पोस्ट में उलझा दिया. इसके साथ ही भारतीय टीम की बढ़त 3-1 हो गई. इसके बाद पाकिस्तान ने पलटवार की पूरी कोशिश की, लेकिन मजबूत भारतीय डिफेंस को भेदने में नाकाम रही.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*