अफगानिस्‍तान में इस्‍लामिक स्‍टेट पर अमेरिकी ड्रोन हमले में 3 बच्‍चों की मौत

काबुल. अफगानिस्‍तान में तालिबान के कब्‍जे के बाद से मची अफरातफरी के बीच आतंकी संगठन इस्‍लामिक स्‍टेट (ISIS) ने काबुल एयरपोर्ट पर विस्‍फोट करके कई लोगों की जान ले ली. इसके बाद अमेरिका ने उसके ठिकाने को निशाना बनाया. अब रविवार को अमेरिका ने आईएसआईएस के आत्‍मघाती आतंकी पर ड्रोन से हमला किया है. विदेशी समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस के मुताबिक अमेरिका का कहना है कि आईएसआईएस का यह आत्‍मघाती आतंकी कार के जरिये काबुल एयरपोर्ट पर हमले की योजना बना रहा था. एक अफगान अधिकारी ने कहा है कि इस हमले में तीन बच्‍चों की भी मौत हुई है.

एक अधिकारी ने जानकारी दी है कि अमेरिकी ड्रोन हमले में एक कार को बम से उड़ाया गया है, जिसमें कई आत्‍मघाती हमलावरों के होने की बात की जा रही है. यह भी कहा जा रहा है कि ये हमलावर काबुल एयरपोर्ट पर हमला करने जा रहे थे. अमेरिका की ओर से आईएसआईएस पर यह दूसरी एयरस्‍ट्राइक है. गुरुवार को आईएसआईएस ने काबुल एयरपोर्ट पर हमला करके 13 अमेरिकी सैनिकों और कुछ अफगानी लोगों को मारा था.

इस्लामिक स्टेट के सहयोगी संगठन आईएसआईएस-के द्वारा किए गए आत्मघाती हमले के बाद तालिबान ने हवाई क्षेत्र के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी है. उस आत्मघाती हमले में 180 से अधिक लोग मारे गए थे. ब्रिटेन ने शनिवार को अपनी निकासी उड़ानें समाप्त कर दीं. अमेरिका के सबसे लंबे युद्ध से सभी सैनिकों को वापस निकालने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन द्वारा निर्धारित मंगलवार की समयसीमा से पहले, अमेरिकी सैन्य मालवाहक विमानों ने रविवार को हवाई अड्डे से उड़ान जारी रखी.

सेना के प्रवक्‍ता अमेरिकी नौसेना के कैप्‍टन बिल अर्बन  का कहना है कि यह ड्रोन हमला आत्‍मरक्षा में था. हालांकि सेना अभी भी इस बात की जांच कर रही है कि क्‍या इस हमले में आम नागरिक मारे गए हैं या नहीं. लेकिन इसके सबूत नहीं दिख रहे हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*