निक्की प्रधान और सलीमा टेटे को 50-50 लाख रुपए के साथ लैपटॉप, स्कूटी और मोबाइल की सौगात, 3000 स्क्वेयर फीट में घर भी

रांची: झारखंड पहुंचते ही राज्य की ओलिंपियन बेटियों पर सौगातों की बरसात शुरू हो गई है। झारखंड सरकार ने टोक्यो ओलिंपिक में महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी रही निक्की प्रधान और सलीमा टेटे को 50-50 लाख रुपए नगद दिए हैं। इसके अलावा इन्हें एक स्कूटी, एक लैपटॉप और एक स्मार्ट फोन भी दिया गया। प्रोजेक्ट भवन में बुधवार को आयोजित सम्मान समारोह में CM हेमंत सोरेन ने दोनों के लिए पक्का का घर बनाने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि यह घर इनकी पसंद की जगह और इनके मनमाफिक डिजानइन का बनाया जाएगा। 3000 स्केवेयर फीट में मकान तैयार किया जाएगा।

खेल के दौरान घायल खिलाड़ियों का इलाज सरकार कराएगी
इस दौरान CM हेमंत सोरेन ने इस बात की भी घोषणा की कि अगर हमारे खिलाड़ी और कोच के साथ खेल के दौरान कोई आकस्मिक घटना घटती है तो उनके अस्पताल का पूरा खर्चा सरकार उठाएगी। उन्होंने कहा कि जीवन यापन और जिंदगी जीने के लिए सपोर्ट सरकार की तरफ से दिया जाएगा।

जहां बिजली और सड़क नहीं वहां की बेटियां कर रहीं कमाल
हेमंत सोरेन ने कहा कि जहां बिजली और सड़क नहीं वहां की बेटियां दुनिया में कमाल कर रही हैं। इनकी संसाधनों और जरूरतों का खयाल रखना हम सब का दायित्व है। उन्होंने बताया कि सरकार राज्य में रेसिडेंसियल स्पोर्ट्स सेंटर को धरातल पर उतारने का संकल्प लिया है। यहां बैडमिंटन, फुटबॉल, हॉकी, बॉलीबॉल के खिलाड़ियों के लिए सुविधा होगी। इसके अलावा डे बोर्डिंग ट्रेनिंग सेंटर में आने वाले खिलाड़ियों को 500 रुपए प्रति प्लेयर दिया जाएगा।

ओलिंपियन दीपीका का नाम भूले CM
कार्यक्रम के दौरान CM हेमंत सोरेन खिलाड़ियों को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्हें वहां मौजूद हॉकी खिलाड़ी सलीमा टेटे और निक्की प्रधान का तो नाम याद रहा, लेकिन पिछले दो ओलिंपिक में राज्य का नाम रोशन करने वाली दीपीका का नाम वे भूल गए। बाद में कार्यक्रम की एंकर से पूछकर उन्होंने उनका नाम लिया। उन्होंने कहा कि शॉर्ट नोटिस में कार्यक्रम का आयोजन होने के कारण उन्हें बुलाया नहीं जा सका।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*