कोरोना को मात देकर काम पर लौटे एसएसपी सुरेन्द्र कुमार झा, होम आइसोलेशन में रहकर कई मामलों का किए खुलासा

Joharlive Team

रांची : आज के समय में कोरोना संक्रमण की समस्या से हर इंसान पीड़ित है। रांची एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बहुत कम समय में कोरोना को मात देकर काम पर लौट आये है।शनिवार को एसएसपी अपने कार्यालय आ कर आम जनता की समस्या से रूबरू हुए। लंबे समय से ऑफिस में पड़े काम का निबटारा किए।
गौरतलब है कि लॉकडाउन के वक्त से ही सुरेंद्र कुमार झा ड्यूटी पर कोरोना योद्धा की तरह डटे थे। लेकिन ड्यूटी के दौरान ही वे भी कोरोना संक्रमित हो गये थे। बीते 21 सितंबर को रांची एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आयी थी। कोरोना संक्रमित पाये जाने के बाद सुरेंद्र कुमार झा होम अपने ही घर पर होम आइसोलेशन में थे।

होम आइसोलेशन में रहते हुए कई बड़े मामलों की मॉनिटरिंग की

करीब 25 दिन होम आइसोलेशन में रहते हुए एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने कई बड़े मामले की मॉनिटरिंग की। बीते 5 अक्टूबर को रांची के चर्चित मुकेश जालान हत्याकांड का एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा के निर्देश पर रांची पुलिस ने पर्दाफाश किया था। इस मामले में तीन अपराधी को गिरफ्तार किया गया है। इस घटना के खुलासे में वर्तमान सुखदेव नगर थाना प्रभारी जॉन मुर्मू फेल रहे तो पूर्व थाना प्रभारी संजय कुमार को एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने पूरे मामले की जांच की जिम्मेवारी दी थी। इंस्पेक्टर संजय कुमार ने कड़ी मेहनत और बेहतर अनुसंधान की बदौलत कांड का पर्दाफाश कर लिया। वहीं पूरे मामले की एसएसपी खुद मॉनिटरिंग कर रहे थे। इसके अलावा बीते 12 अक्टूबर को एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा की पहल पर पांच लाख का इनामी नक्सली बोयदा पाहन ने अपने तीन साथियों के साथ सरेंडर किया था। सभी नक्सलियों ने रांची पुलिस लाइन में आयोजित कार्यक्रम में डीआइजी अखिलेश कुमार झा और डीसी छवि रंजन के समक्ष हथियार के साथ आत्मसमर्पण किया था।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*